शिक्षकों को सम्मानित करने का फैसला

कोटड़ा क्षेत्र के लिए रवाना हुई शिक्षकों की बस

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. एन वक्त पर टूटी शिक्षा अधिकारियों की नींद के बाद जिला प्रशासन ने ऐसे शिक्षकों को सम्मानित करने का फैसला लिया है, जो कम समय में बोर्ड परीक्षा दे रहे बच्चों का बेहतर परिणाम लाएंगे। हालांकि इन शिक्षकों के पास समय काफी कम है, लेकिन बेहतर और चयनित पढ़ाई करवाने से बच्चों में बदलाव की उम्मीद बंधी है। जिला कलक्टर ने आदेश जारी किए हैं जो शिक्षक कोटड़ा में शिक्षण व्यवस्थार्थ लगाए गए हैं, यदि वे मेहनत कर इन बच्चों का अपेक्षित परिणाम लाते हैं तो आने वाले दिनों में गणतंत्र दिवस पर उन्हें सम्मानित किया जाएगा।

जिला शिक्षा अधिकारी की ओर से जिले के 57 शिक्षकों की ड्यूटी कोटड़ा के स्कूलों में लगाई गई है, जो इन स्कूलों में जहां शिक्षक नहीं है वहां पहुंचकर व्यवस्थार्थ अंग्रेजी, गणित व विज्ञान पढ़ाएंगे। इन तीन विषयों में बच्चों को वर्ष भर पढ़ाई नहीं मिल पाई है, साथ ही ये विषय कठिन हैं, यदि परीक्षा से ठीक पहले भी इन विषयों की पढ़ाई बच्चों को मिल जाएगी तो उन्हें सहारा मिल जाएगा।

—–

आज रवाना हो गई बस सोमवार से चेटक सर्किल से शिक्षकों को लेकर कोटड़ा के लिए बस रवाना हुई। हालांकि इसमें सभी शिक्षक नहीं गए हैं, कई शिक्षिकाएं इस नई व्यवस्था के कारण अवकाश पर उतर गई हैं।

जिला प्रशासन ने तय किया है कि जो शिक्षक इस कम समय में बच्चों पर मेहनत कर बेहतर परीक्षा परिणाम लाएगा उसे जिला स्तर पर सम्मानित किया जाएगा।

संजय बासू, अतिरिक्त कलक्टर शहरउदयपुर

Patrika

Leave a Comment