शहर में अब भी 10 हजार से अधिक विदेशी , चीन के 30, इटली के 211 पर्यटक लेकसिटी पहुंचे

0
474

– मार्च के पहले पखवाड़े के हाल

– शहर में लोगों में अब भी भय

– विभाग कर रहा आंकड़ों का मिलान

– होटल्स और आरएनटी में हो रही स्क्रीनिंग

भुवनेश पंड्या
उदयपुर. उदयपुर में बड़ी संख्या में विदेशीपर्यटक विभिन्न पर्यटन स्थलों पर यहां-वहां घूम रहे हैं, तो ट्रेवल एजेंन्ट उन्हें बकायदा घुमाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे, हालांकि इन पर्यटकों की होटल्स व आरएनटी में स्क्रीनिंग हो रही है, फिर भी लोगों में विदेशी पर्यटको को लेकर डर है। खास बात ये है कि चीन देश के 30 पर्यटक मार्च के पहले पखवाड़े में लेकसिटी पहुंचे थे, जबकि चीन के ही वुहान शहर से कोरोना वायरस के फैलने की शुरुआत हुई थी। दूसरी ओर जिस इटली में कोरोना का हाहाकार मचा हुआ है, उस देश के 211 पर्यटक भी इसी अवधि में यहां पहुंचे हैं। इसी अवधि में कुल 10 हजार 573 पर्यटक यहां पहुंचे है। अब विभाग ये खंगाल रहा है कि ये पर्यटक फिलहाल यहां हैं या नहीं। यहां स्थानीय पर्यटक कम संख्या में पर्यटक स्थलों पर पहुंच रहे हैं। पर्यटन विभाग इन सभी पर्यटकों की स्क्रीनिंग हुई या नहीं इसे लेकर सीआईडी के पास उपलब्ध संख्या, होटल्स में मौजूद पर्यटकों की संख्या व स्क्रीनिंग किए गए पर्यटकों की संख्या का मिलान करने की तैयारी कर रहा है। यदि कोई पर्यटक स्क्रीनिंग करवाने से बच गया होगा तो तत्काल उसकी हर हाल में स्क्रीनिंग करवाई जाएगी।

—–

देसी कम- विदेशी ज्यादापर्यटक स्थलों से लेकर भीतरी शहर की दुकानों और माल्स में देसी लोग कम पहुंच रहे है तो विदेशियों की संख्या कई बार तो यहां के निवासियों से भी ज्यादा दिखती है। हालांकि कोरोना के डर से इन दिनों पर्यटक स्थल खाली खाली से दिखने लगे हैं। चिकित्सा विभाग ने सभी होटल्स व ट्रेवल एजेंट को चेताया है कि बाहर से आया हुआ एक भी पर्यटक बिना स्क्रीनिंग किसी हाल में नहीं रहे, इसका पूरा ख्याल रखना होगा। यदि किसी में खासी, सर्दी जुकाम या बुखार केलक्षण हो तो जल्द से जल्द इसकी सूचना विभाग को पहुंचानी होगी।

—–

1 से 15 मार्च के बीच पहुंचेये ऐसे विदेशी पर्यटक हैं जो 1 से 15 मार्च के बीच उदयपुर पहुंचे हैं। इस डेटा मिलान से यह स्पष्ट हो जाएगा कि कौनसा होटल उनके पर्यटकों की जानकारी प्रशासन से लेकर चिकित्सा विभाग से छिपा रहा है। ये 10573 विदेशी पर्यटक शहर के 260 होटल्स में ठहरे हुए हैं।

—–

मार्च के पहले पखवाड़े पहुंचे विदेशी पर्यटक देश- संख्या चीन-30अफगानिस्तान- 11अमरीका-3अंडोरा- 1अर्जेन्टिना- 163आस्ट्रेलिया- 714आस्ट्रिया- 105बांग्लादेश- 48बारबडोस- 9बेलारूस- 1बेल्जियम- 179बेलीज-1दहोमी- 1बोलिविया-1फिजि-1फिनलैंड-13फ्रंास-1798गबोन-7जर्मनी-1192ग्रीस-20होंगकोंग-1हंगरी-23आईसलैंड-1इंडोनेशिया-45इरान-11आयरलैंड-206स्पेन-278श्री लंका-10सुडान-3स्वीटजरलैंड-180स्वीडन-41सीरिया-1ताइवान-1तंजानिया-12थाइलैंड-52त्रिनिदाद-9ट्यूनिशिया-3टर्की-45यूके ब्रिटिश-18पेरू- 16फिलिपिंस-11पोलैंड-148पुर्तगाल-97आइसलैंड रियूनियन-18रोमानिया-28रूस- 169सऊदी अरब-3सर्बिया-3सिंगापुर-15स्लोवेक रिपब्लिक-6स्लोवेनिया-3सोलोमन आइलैंड-1दक्षिण अफ्रीका-51यूक्रेन-127संयुक्त अरब अमिरात-4यूनिाइटेड किंगडम-1586यूएन स्पेशलाइज एजेंसी-4यूएस माइनर आउटलेइंग आइलैंड-1यूएसए-1118उरूग्वे-20उजबेकिस्तान-2ब्राजिल-150ब्रिटिश इंडियन ओशियन टेरिटरी-27बुल्गेरिया-5कनाड़ा-570चिली-18कोलम्बिया-65कोस्टारिका-4क्रोएशिया-5क्यूबा-1सायप्रस-2क्रेच रिपब्लिक-13डेनमार्क-20इक्वाडोर-6मिश्र-5एस्टोनिया-1इथोपिया-2मलेशिया-22माली-2माल्टा-7मोरिशस-17मेक्सिको-126मंगोलिया-3मोरक्को-1नामिबिया-1निदरलैंड-222न्यूजीलैंड-84नाइजिरिया-3नॉर्वे-45ओमान-8पाकिस्तान-1पलाऊ-1पराग्वे-1इज्राइल-243इटली-211जापान-27जर्सी-4जोर्डन-2कजाकिस्तान-2केन्या-5कोरिया-3कोरिया रिपब्लिक-28कुवैत-1लाओस-4लेबनान-2लिथूनिया-5लक्जमबर्ग-9मेडागास्कर-2-

—-

– रविवार की स्थिति

– मरीजों की आईपीडी में स्क्रीनिंग – 6226

– सामने आए बीमार- 919

—–

दोनों टेस्ट किए पर भरोसा नहीं इसलिए भेजा जयपुर उदयपुर की एक महिला व चित्तौडगढ़़ में मृतक जर्मनी के पर्यटक का नमूना आरएनटी की लैब में टेस्ट किया गया। टेस्ट के बाद किसी तकनीकी परेशानी के कारण इसे री टेस्ट के लिए जयपुर एसएमएस भेजा गया है। सीएमएचओ दिनेश खराड़ी ने बताया कि दोनों की रिपोर्ट नेगेटिव थी, लेकिन किसी तकनीकी गड़बड़ी के कारण इसे जयपुर भेजा है। एमबी अधीक्षक डॉ आरएल सुमन ने बताया कि पहली बार ये टेस्ट किया गया है, रिपोर्ट की सत्यता को देखने के लिए इसे जयपुर भेजा गया है, ताकि कोई गलत प्रोसेस नहीं हो।

—–

अब केमिस्ट का बनाना होगा वाट्स एप ग्रुप कलक्टर ने चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया है कि मास्क और सेनेटाइजर्स से जुड़ी कोई कालाबाजारी नहीं, किसी प्रकार की समस्या आम लोगों को नहीं हो इसलिए तत्काल एक सोशल मीडिया ग्रुप बनाया जाए जिस पर समय-समय पर जानकारी का आदान-प्रदान किया जाए।

—-

आरएनटी में स्क्रीनिंग – कुल 99- विदेशी-72- स्थानीय-27

—-

Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here