विदेश और अधिक प्रसार वाले राज्यों से आए 123 लोग क्वारंटाइन में

0
454

30 देशों से उदयपुर जिले में आए लोगों की सेहत पर रखी जा रही नजर

उदयपुर. जिले में 123 लोगों को होम क्वारंटाइन (स्वास्थ्य की दृष्टि से अलग-थलग रखना) में रखा गया है। वे अपने घर पर ही हैं, लेकिन संक्रमण की आशंका के चलते उन्हें किसी परिजन, परिचित या किसी व्यक्ति के साथ रहने से मना किया गया है। चिकित्सक उनकी सेहत पर भी नजर रखे हुए हैं।
सूत्रों के अनुसार जिला प्रशासन लगातार ट्रेवल हिस्ट्री और बीमार होने के लक्षणों के आधार पर लोगों को की सेहत की जांच करवा रहा है। कारोना वायरस की चपेट के संदिग्धों को अलग-थलग रहने को कहा गया है। उदयपुर जिले में 123 में से जापान, संयुक्त राज्य अमरीका, लंदन, थाइलैण्ड, मलेशिया, इंडोनेशिया, ऑस्ट्रेलिया, स्वीट्जरलैण्ड, नेपाल, मलेशिया, कनाडा, पाकिस्तान, वियतनाम, श्रीलंका, शिकागो, यूके, अल्बेनिया, साउथ इंडिया, नेपाल, दुबई, रोमानिया, न्यूजीलैण्ड, पराग, चीन, जापान, स्पेन, यूरोप, फ्रांस, कजाकिस्तान, संयुक्त अरब अमीरात से आए हुए लोग क्वारंटाइन में रह रहे हैं। प्रशासन की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले माह से लेकर 19 मार्च तक जिले में आए इन लोगों को 14 दिन का क्वारंटाइन रहेगा। कइयों का खत्म हो चुका है, वहीं दर्जनों लोगों को 2 अप्रेल तक पर्यवेक्षण में रखा जाएगा।
– डॉक्टरों ने कहा- खतरे की कोई बात नहीं
इधर, भीलवाड़ा अस्पताल में 7 मार्च को अपनी बहन से मिलकर ड्यूटी पर लौटीं शिक्षिका पूरी तरह स्वस्थ हैं। 14 दिन का इंक्यूबेशन पीरियड पूरा होने से चिकित्सकों ने माना कि संक्रमण का कोई खतरा नहीं है। दो दिन पूर्व भीलवाड़ा के अस्पताल में डॉक्टर सहित कई लोगों मे ंकोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर चिंतित शिक्षिका खुद प्रशासन के पास पहुंचीं, जहां से मिले निर्देशों पर चिकित्सकों ने उनकी स्क्रीनिंग की।

Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here