लुभाती है मूर्घन्य कला साधक की सृजन यात्रा

0
469

– प्रो. सुरेश शर्मा के ५० से अधिक चित्रों की प्रदर्शनी शुरू

उदयपुर . Art exhibition in udaipur शहर की सबसे पुरानी कला तपोस्थली ‘टखमणÓ की नव निर्मित कला दीर्घा का उद्घाटन शुक्रवार को झीलों की नगर में कला के वरिष्ठतम साधक प्रो. सुरेश शर्मा के मनोहारी चित्रों की प्रदर्शनी के साथ हुआ। गौरतलब है कि इस ख्यात कलाकार की अपने ही शहर में यह पहली कला प्रदर्शनी है। बता दें, इस कला दीर्घा में उनके अधिकांश चित्र एक्रेलिक ऑन कैनवास और ड्राई पेस्टल से सृजित हैं। जो यकायक देखने में एब्सट्रेक्ट जरूर प्रतीत होते हैं, लेकिन वो रियलिज्म के बेहद करीब होने का अहसास बरबस कराते हैं।

Art exhibition in udaipur कला रसिकों का मानना है कि प्रो. शर्मा के तमाम चित्र विजन और ऑब्जर्वेशन के बीच की यात्रा को अनुभूत कराते हैं। जिनमें हल्के रंगों के प्रयोग से किया चित्रण कहीं मद्दम रोशनी की झिलमिलाहट का आभास देता है वहीं, ठहरे पानी की सतह पर बिखरी गुलाब की पंखुरियां जीवन की ताजगी का संदेश देती प्रतीत होती है। कलाविज्ञों का मानना है कि शांति निकेतन से अमरीका तक के सृजन को आज तक कई लोगों ने नहीं देखा होगा। कला के एेसे कई नायाब नमूने इस प्रदर्शनी का खास आकर्षण बने हैं जो यकीनन नई पीढ़ी को उनके दीर्घकालिक अनुभव और साधना की गाथा आगामी १५ मार्च तक बखूबी सुनाएंगे। कला प्रदर्शनी का नया केंद्रइस कला प्रदर्शनी के साथ ही अब झीलों की नगरी के कला सृजकों को एक नया केंद्र उपलब्ध हो जाएगा। इसमें टखमण के सदस्यों को शुल्क रियायत रहेगी। बाकी नॉन मेंबर्स और देश के अन्य राज्यों के क्रिएटिव कलाकारों के लिए भी नियमानुसार प्रदर्शनी के अवसर बने रहेंगे। इस अवसर पर खास अतिथि निगम महापौर जीएस टांक, बीआर भाटी, दिनेश कोठारी के अलावा प्रो. एलएल वर्मा, आर के शर्मा, डॉ. विद्या सागर उपाध्याय, बसंत कश्यप, ललित शर्मा, सीपी चौधरी, रघुनाथ शर्मा, दिनेश अरोड़ा, विष्णु माली, डॉ. हेमंत द्विवेदी, नसीम अहमद सहित कई वरिष्ठ और युवा कलाकार उपस्थित रहे। Art exhibition in udaipur

Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here