यूपीए सरकार में वर्तमान से ज्यादा महंगाई, जल्द हमारी अर्थव्यवस्था होगी फाइव ट्रिलियन: ठाकुर

– वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर पहुंचे

भुवनेश पंड्या
उदयपुर – यूसीसीआई में व्यवसासियों से हुए मुखातिब उदयपुर. यूपीए सरकार में वर्तमान सरकार से ज्यादा महंगाई थी। पिछले वर्षों में यूपीए के समय में औसतन महंगाई दर १२ प्रतिशत थी, जो मोदी सरकार में ४ प्रतिशत से कम थी। अभी पिछले एक माह में महंगाई दर बढ़ी है, लेकिन वह मौसमी है, ज्यादा समय नहीं रहेगी। यह बात वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने पत्रकारों से बातचीत में शुक्रवार को कही। ठाकुर ने कहा कि लगातार प्रयास कर रहे है कि किसानों की आय दुगुनी हो और ग्रामीण क्षेत्रों का विकास हो। इस वर्ष के बजट में कृषि व किसान कल्याण मंत्रालय व ग्रामीण विकास मंत्रालय के लिए दो लाख ८३ हजार करोड़ के बजट का प्रावधान किया गया है। अजा के लिए ८३ हजार करोड़, अजजा के लिए ५५ हजार करोड़ खर्च करेंगे। नोर्थ इस्ट के लिए ६० हजार ११२ करोड़ और महिलाओं के लिए १ लाख ४३ हजार करोड़ का प्रावधान किया गया है। ठाकुर यहां उदयपुर चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्री में उद्यमियों से चर्चा करने पहुंचे थे।

—-

पसंद आया बजट: उन्होंने कहा कि हम बजट देने के बाद लोगों के बीच गए, पिछली बार भी हमने बजट दिया था तब आमजन से लेकर व्यापारियों और उद्यमियों से हमने मुलाकात की। इस बार के बजट की जो सराहना हो रही है, इसका सबसे बड़ा कारण ये ही है कि हम लोगों से सुझाव लेने के बाद इसे लाए हैं। भारत ११ वे नम्बर की अर्थव्यवस्था थी, जो अब पांचवें नम्बर की हो चुकी है। पिछले वर्ष आईएमएफ, आरबीआई और इकॉनोमिक सर्वे ने कहा है कि अगले वर्ष २०२०-२१ के वित्तीय वर्ष में भारत की अर्थव्यवस्था ६ और साढे़ छह फीसदी की दर से बढ़ रही है, यह एक संकेत ही है कि दुनिया का विश्वास भारत में है। मेक्रो इकॉनोमिक इंडिकेटर देखे तो हम इसमें सही दिशा में बढ़ रहे हैं। हमारे विदेशी रिजर्व सर्वाधिक हैं। २०१४ से १९ तक साढे सात फीसदी की विकास दर औसतन रही है। मोदी सरकार ने फिजिकल डेफ्जिट कम किया है और कम कर रहे है। १०३ लाख करोड़ रुपया देश की आधार व्यवस्था पर भारत सरकार खर्च करने जा रही है। व्यक्तिगत करदाता व कॉरपोरेट कर चुकाने वालों को कर में राहत दी है, ताकि उन्हें राहत मिल सके। नए उद्योग, मेन्यूफेक्चरिंग यूनिट जो लगेंगे उन्हें ३० की बजाय केवल १५ प्रतिशत टेक्स ही देना होगा। हमारे प्रयास है कि भारत पांच ट्रिलियन अर्थव्यवस्था बनाएंगे। उन्होंने व्यापारियों और स्टार्टअप का आभार जताया कि उन्होंने यहां तक हमें पहुंचाने में वे सभी साथ रहे हैं। उन्होंने एक मध्यप्रदेश में नसबंदी को लेकर जारी आदेश के सवाल पर जवाब दिया कि वे संजय गांधी के पूर्व सहयोगी रहे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता है। दिल्ली चुनाव हारने को लेकर कहा कि राज्य के चुनाव अलग होते है, एजेंडा अलग होता है।



Patrika

Leave a Comment