बापू को भूले ट्रंप, पर ओबामा ने बताया था दुनिया के लिए महान तोहफा

0
434
  • विजिटर बुक में बापू की चर्चा करना भूले ट्रंप
  • ओबामा ने गांधी को कहा था ‘ग्रेट गिफ्ट’
  • 2015 में भारत आए थे बराक ओबामा

भारत दौरे पर आए अमेरिका के राष्ट्रपति साबरमती आश्रम की विजिटर बुक में भले ही महात्मा गांधी का जिक्र करना भूल गए हों, लेकिन ट्रंप के पूर्ववर्ती बराक ओबामा जब 2015 में भारत दौरे पर आए थे तो उन्होंने गांधी के बारे में लिखते हुए कहा था कि बापू दुनिया के लिए एक महान तोहफा हैं.

बता दें कि सोमवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दो दिन के दौरे पर भारत दौरे पर आए हैं. ट्रंप का विमान सबसे पहले अहमदाबाद में उतरा. अहमदाबाद में पीएम मोदी ने उनका स्वागत किया. यहां से ट्रंप अपने काफिले के साथ साबरमती आश्रम पहुंचे. साबरमती आश्रम में ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ने साबरमती आश्रम का दौरा किया और बापू से जुड़ी चीजों के बारे में जाना.

विजिटर बुक में गांधी का जिक्र नहीं

साबरमती आश्रम में ट्रंप और मेलानिया ने चरखे को देखा. इसे देखकर वे दोनों हतप्रभ रह गए, आश्रम में मौजूद लोगों ने ट्रंप और मेलानिया को चरखे के बारे में बताया. आश्रम से निकलते वक्त ट्रंप ने विजिटर बुक में अपनी राय लिखी. ट्रंप ने लिखा, “मेरे शानदार दोस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए, इस बेजोड़ दौरे के लिए धन्यवाद.” विजिटर बुक में राष्ट्रपति ट्रंप ने महात्मा गांधी का जिक्र नहीं किया.

sabarmati_022420024229.jpg

पढ़ें- साबरमती आश्रम की विजिटर बुक में ट्रंप ने मोदी को बताया ग्रेट फ्रेंड, गांधी का जिक्र नहीं

जब ओबामा थे रिपब्लिक डे परेड के चीफ गेस्ट

साल 2014 में जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने तो, 2015 के गणतंत्र दिवस समारोह में उन्होंने मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया. दिल्ली आने पर ट्रंप राजघाट गए और यहां की विजिटर बुक में उन्होंने बापू के बारे में अपने विचार लिखे.

ओबामा ने लिखा था, “मार्टिन लूथर किंग ने जो कहा था वो आज भी सत्य है. गांधी के विचार आज भी पूरी तरह से भारत में मौजूद हैं, और ये दुनिया के लिए एक महान तोहफा है. हम कामना करते हैं कि सभी देश और लोग गांधी की सत्य और प्रेम की भावना के बीच सदभावना से रहें.”

पढ़ें- चरखा देख हैरान रह गईं मेलानिया, कहा- क्या रूई से ऐसे बनता है धागा

मोटेरा स्टेडियम से गांधी का जिक्र

राष्ट्रपति ट्रंप ने विजिटर बुक में भले ही गांधी के बारे में कुछ नहीं कहा, लेकिन उन्होंने मोटेरा स्टेडियम से अपने संबोधन बापू का जिक्र किया और उन्हें महान हस्ती बताया. ट्रंप ने कहा कि साबरमती आश्रम ही वो जगह है जहां से बापू ने नमक आंदोलन शुरू किया था.

AajTak

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here