फर्जी फेसबुक अकाउंट ने पुल‍िस की भी उड़ा दी थी नींद, जब हुआ खुलासा तो सब रह गए दंग

0
454

– पुलिस ने 10 माह की मशक्कत कर खोला राज, बचने के लिए खुद भी बन गई पीडि़ता, गवाह में भी दिए बयान

उदयपुर. फर्जी फेसबुक आईडी व व्हाट्सअप गु्रप बनाकर साथी को परेशान करने वाली युवती को सूरजपोल थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया।
एसपी कैलाशचन्द्र बिश्नोई ने बताया कि जून में एक पीडि़ता ने रिपोर्ट दी कि उसके फेसबुक आईडी पर निधि‍ शर्मा नाम से फ्रेन्ड्स रिक्वेस्ट आई। उसने उसे स्वीकार किया। उसके बाद से निधि‍ शर्मा ने उसे फेसबुक मैसेंजर पर तरह-तरह से मैसेज भेजते हुए परेशान करना शुरू कर दिया। परेशान होकर पीडि़ता ने उसे ब्लॉक कर दिया, उसके बाद आरोपी ने नई आईडी बनाकर उसके फ्रेन्ड्स को एड कर उन्हें पीडि़ता के बारे में अश्लील मैसेज भेज कर परेशान करने लगी। इस संबंध में मामला दर्ज होने पर उपाधीक्षक चेतना भाटी के नेतृत्व में सीआई रामसुमेर मय टीम ने आईटी एक्सपर्ट की मदद से पीडि़ता व आरोपी के कॉल डिटेल निकलाने के साथ ही एफबी अकाउंट की पूरी डिटेल निकाली। एएसपी गोपालस्वरूप मेवाड़ा के नेतृत्व में उपाधीक्षक चेतना भाटी, सीआई रामसुमेर, हेडकांस्टेबल शरीफ खां, साइबर टीम के गजराज सिंह व लोकेश रायकवाल मय टीम ने साक्ष्य संकलन के साथ ही पूरी डिटेल निकाली तो सभी चौंक गए। इस पूरे घटनाक्रम में पीडि़ता की साथी युवती कपासन चित्तौडगढ़़ के कपासन हाल तिलकनगर हिरणमगरी निवासी कृतिका पुरोहित लिप्त मिली। उसने फर्जी अकाउंट बनाकर पीडि़ता को परेशान किया। पुलिस ने जांच के बाद आरोपी कृतिका को गिरफ्तार कर लिया।





Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here