पशु चिकित्सालय में मरी पड़ी गायें, उठाने वाला कोई नहीं

0
320
AdvertisementAmazon Great Indian Sale Banner

नगर निगम के काइन हाउस से लाए गाये

उदयपुर. सरकारी व्यवस्थाओं की लचर प्रक्रिया का एक उदाहरण शहर के चेतक सर्कल स्थित पशु चिकित्सालय में दिखने को मिलेगा। वहां पर दो गायों के शव 24 घंटे से ज्यादा समय से पड़े लेकिन उनको उठाने वाला कोई नहीं है। विभाग का कहना है कि वहां से नगर निगम के मृत पशु उठाने वाले को बहुत कॉल किए लेकिन वह नहीं आया इसलिए ऐसा हुआ है।
असल में बुधवार सुबह पशु चिकित्सालय में पीछे की तरफ दो गायें मरी पड़ी थी और शाम करीब 5.30 बजे भी गायों के शव वहीं पड़े थे। जब पशु चिकित्सालय के चिकित्सकों से पूछा तो बताया कि मंगलवार से ही मृत पशु उठाने वाले ठेकेदार को फोन कर रहे है लेकिन वो आया नहीं इसलिए गायों के शव पड़े हुए है। डॉक्टरों ने इतना बताया कि ऐसा अमूमन होता रहता है। एक मृत गाय के सिंघ पर लगे टैग नंबर 3034 को काइन हाउस से लगाया गया जिसकी मौत मंगलवार रात को हुई थी तो दूसरी गाय जिसके सिंघ पर टैग नंबर 214 था जिसे राजसमंद के देलवाड़ा से सडक़ हादसे में घायल अवस्था में लाया गया था, उसकी मौत भी एक दिन पहले ही हुई। पशुपालन विभाग के उप निदेशक डॉ. शरद अरोड़ा बताते है कि उनके स्टाफ ने तो कई बार फोन किया था ठेकेदार को लेकिन वह नहीं आया था, इसलिए गायों के शव पड़े हुए थे। वे कहते है कि काइन हाउस में भी डॉक्टर लगा रखा है लेकिन वहां से गंभीर स्थिति वाली गाये यहां रेफर की जाती है। मौत के बाद नगर निगम का ठेकेदार ही शव उठाकर ले जाता है।

Patrika

AdvertisementAmazon Great Indian Sale Banner

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here