‘नवल रंग रसियो खेले होळी…’

0
354

फाल्गुनी एकादशी पर जगदीश मंदिर में फागोत्सव

 उदयपुर . शहर केजगदीश मंदिर में फाल्गुनी एकादशी के मौके पर शुक्रवार को फागोत्सव मना। भगवान जगन्नाथ को फाल्गुनी शृंगार धराया गया, वहीं भक्तों ने फाग के भजनों से सराबोर कर दिया।
पुजारी रामगोपाल ने बताया कि भोग आरती के समय 12 बजे से शुरू हुआ कीर्तनों का दौर दोपहर 2.30 बजे तक चला। इस मौके पर भरत वैष्णव, अनिल वैष्णव, गोपालसिंह, पियूष अरोड़ा, हिमांशु आदि ने ‘गोकुलिया री कुंज गली में गेरो चांग बाजे रे…, नंद रो लाड लो होली खेले रे के आई होली रे…, आज बिरज में होली रे रसिया, अपने अपने भवन से निकली कोई गौरी ने कोई काली रे रसिया… और नवल रंग रसियो खेले होली, होली रे मस आवे रे मारी गलियां में धूम मचावे रे… आदि भजन गाए। इस मौके पर भगवान जगन्नाथ को फाल्गुनी वस्त्र वागा का शृंगार कर मुकुट धराया गया। पिछवाई पर गुलाल की छटा बिखेगी गई।

———-
चंग की थाप पर गूंजे रसिया गीत
सेक्टर-7 स्थित जगन्नाथ धाम में चंग की थाप के साथ रसिया गायन को लेकर भक्तों में उत्साह रहा। गुरुवार रात आयोजन में बड़ी संख्या में क्षेत्रवासी शामिल हुए। भगवान जगन्नाथ धाम में सभी फूलों की होली से सराबोर हुए। मंदिर समिति के मनोज जोशी ने बताया कि महर्षि गौतम बिजनेस क्लब की ओर से मारवाड़ शेखावटी क्षेत्र के चंग रसिया गायकों की टोली का रसिया गान कराया गया। हरीश शर्मा, अशोक ओझा, पारीक परिवार के नौनिहाल चंग वादक, शरद आचार्य आदि शामिल हुए।
श्रीजी के द्वार उड़ी गुलाल
श्रीनाथजी मंदिर उदयपुर में कुंज एकादशी मनोरथ आयोजित हुआ। इस अवसर पर अबीर गुलाल उड़ाई गई। श्रीजी के विशेष दर्शन का लेकर वैष्णवों का हुजुम उमड़ा।

पाठेश्वर मंदिर में आयोजन

सुभाष नगर स्थित पाठेश्वर महादेव मंदिर में महिलाओं की ओर से फागोत्सव का विशेष आयोजन हुआ। महिलाओं ने फाग गीतों, भजनों की प्रस्तुतियां दी। महिलाएं फागणिया, पिलीया वस्त्र धारण कर मंदिर पहुंची। शिव परिवार को विशेष शृंगार धराया गया।



Holi



Show More

Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here