दुन‍िया भर में मशहूर मेवाड़़ के इस प्रसि‍द्ध मंद‍िर में अब सेवा तक ही हो सकेंगे दर्शन, ये है वजह…

उदयपुर का सिटी पैलेस म्यूजियम सहित चित्तौडगढ़़ दुर्ग 31 तक रहेंगे बंद, कोरोना के असर को देखते हुए सरकार के आदेश

उदयपुर. कोरोना वायरस के बचाव को लेकर सरकार ने आदेश जारी किए हैं। इसके तहत श्रीनाथजी मंदिर में अब सेवा तक ही दर्शन हो सकेंगे। इसके साथ ही उदयपुर के सिटी पैलेस स्थित म्यूजियम, सहेलियों की बाड़ी, बागोर की हवेली, हवाला स्थित ग्रामीण कला परिसर शिल्पग्राम व विश्व विरासत चित्तौडगढ़़ दुर्ग 31 मार्च तक बंद रहेंगे।

यह है आदेश

– उदयपुर में सहेलियो की बाड़ी को भी 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है। दूसरी ओर प्रशासन ने एहतियात बरतते हुए मेले, पार्क, खेल मैदान, चिडिय़ाघर, अभाारण्य, स्वीमिंग पूल, सांस्कृतिक व सामाजिक केन्द्रों पर 50 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर रोक लगा दी है।
-पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र द्वारा बागोर की हवेली संग्रहालय एवं हवाला गांव स्थित ग्रामीण कला परिसर शिल्पग्राम भी 30 मार्च तक बंद रहेगा।

– 31 मार्च तक श्रीजी, प्रियाजी व मदनमोहनजी मंदिर व अधीनस्थ अन्य धार्मिक स्थल को सेवा कार्य के लिए खोलकर बाद में बंद करे ।

– विश्व विरासत चित्तौडगढ़़ दुर्ग को बंद रखने के साथ ही परिसर के कालिका माता मंदिर, सात बीस देवरी जैन मंदिर, मीरा मंदिर भी 31 मार्च तक बंद रहेंगे।

– सभी राजकीय संग्रहालयों पर सभी संरक्षित स्मारकों में पर्यटकों के प्रवेश पर 31 मार्च तक तत्काल रोक लगाई गई।

– सिटी पैलेस म्यूजियम को 31 मार्च तक बंद किया जाएगा।

नाथद्वारा श्रीनाथजी मंदिर में पचास से कम श्रद्धालु कर सकेंगे दर्शन। आरती के दौरान पांच मिनट के लिए ही दर्शन होंगे।
कुंभलगढ़ दुर्ग, हल्दीघाटी संग्रहालय व पेनोरमा 31 मार्च तक बंद।

अन्य मंदिरों के लिए ये आदेश

– शहर के जगदीश मंदिर व मेवाड़ के एकलिंगनाथ मंदिर सहित झांतला माता, आवरी माता, द्वारिकाधीश मंदिर, चारभुजानाथ, सांवलिया सेठ मंदिर में 50 से अधिक दर्शनार्थी एक साथ प्रवेश नहीं करें, बारी-बारी से जाएं। प्रयास करें कि कम समय में दर्शन होने के बाद वे घर जाकर पूजा- आराधना करे।

Patrika

Leave a Comment