ठेकेदारों की मोनोपॉली से फिर रह गई हनुमानगढ़ व गंगानगर की दुकानें

0
487

– हनुमानगढ़ व गंगानगर में 89 समूह बाकी, दूसरी जगह आज होगी स्थिति स्पष्ट
– बंदोबस्त को पूरा करने में जुटा आबकारी विभाग

उदयपुर. आबकारी बंदोबस्त 2020-21 की निकाली गई लॉटरी के आवेदनों में इस बार भी ठेकेदारों की मोनोपॉली व हथकढ़ का दबदबा होने से हनुमानगढ़ व गंगानगर की शराब की 89 समूह नहीं उठ पाए। इन समूहों के लिए फिर से लॉटरी निकाली गई है। इस पूरे खेल में विभागीय अधिकारी खुद मानते हैं कि ठेकेदार समूह बनाकर गारंटी को कम करने का दबाव बनाने के लिए हर बार यह तरीका अपनाते हैं।

आबकारी अधिकारियों का कहना है कि पूरे राजस्थान में निकाली गई लॉटरी में हर बार की तरह ही हनुमानगढ़ के 26 व गंगानगर के 61 समूह नहीं उठ पाए। उनके आवेदन फिर से मांगे गए है। यहां से सरकार लगातार ज्यादा से ज्यादा राजस्व खींचने के प्रयास में है। ठेकेदारों का कहना कि विभाग के नियमानुसार लक्ष्य के अनुरूप शराब का उठाव करना अनिवार्य है। भले ही बचे या कम कीमत पर बिके, सरकार को इससे कोई सरोकार नहीं है।

हथकढ़ भी काफी हावी

अधिकारियों ने बताया कि दोनों ही जिलों में बहुतायत मात्रा में हथकढ़ चोरी छिपे खूब बेची जाती है। प्रतिवर्ष यहां से धरपकड़ में सर्वाधिक हथकढ़ बरामद होती है। सरकार की ओर से देसी मदिरा में अलग-अलग यूपी करंट वाली शराब देने के बावजूद लोग हथकढ़ शराब ही पीते हैं। इसके कारण से देसी समूहों की दुकानों पर गारंटी का पूरा माल बिक नहीं पाता है और घाटे का सौदा दिखाकर हर बार ठेकेदार हाथ खींच लेते हैं। राशि कम होते ही वह इन्हीं दुकानों से कमाते हंै। इसके अलावा यहां राजनीतिक पहुंच वाले भी काफी ठेकेदार हैं, जो दुकानों की गारंटी कम करवाने में काफी माहिर है।

दुकानें आज हो जाएंगी सभी तय
शत प्रतिशत बंदोबस्त करने के लिए आबकारी विभाग ने पूरे राज्य में लॉटरी प्रक्रिया पूरी कर दी। फीस जमा करवाकर दुकान लेने की मंगलवार को अंतिम तिथि है। मंगलवार रात 12 बजे तक भी अगर कोई नकद राशि जमा करवाएगा तो विभाग उसे दुकान आवंटित कर देगा। उसके बाद ही समस्त दुकानों की स्थिति स्पष्ट हो पाएगी कि कौन-सी दुकान व समूह सरेंडर हुए। विभाग की ओर से ऐसी स्थिति में उन दुकानों व समूह के लिए पहले दूसरे स्थान पर वेटिंग में रहने वाले ठेकेदार को आवंटित की जाएगी। उसके बावजूद दुकानें नहीं उठने पर उनकी फिर लॉटरी निकाली जाएगी।





Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here