झामेश्वर महादेव मंदिर के नजदीक पहुंचा एसिड युक्त कीचड़

0
475

ग्रामीण बोले दो दिन पहले मरी भैंस

उदयपुर. झामरकोटड़ा स्थित राजस्थान स्टेट माइंस एंड मिनरल्स के आई.बी.पी. प्लांट से निकलने वाला गंदा कीचड युक्त गंदा पानी झामेश्वर महादेव मंदिर तक पहुंच गया है। ग्रामीणों का कहना है कि इस गंदे पानी में जो कीचड़ समाहित है वह एसिड़ युक्त है, रविवार को एक भैंस के उसमें फंसने से मौत हो गई।
क्षेत्रवासियों एवं मंदिर के आसपास के लोगों का कहना है कि झामरकोटड़ा माइंस के अंदर से आईबीपी प्लान से गुजरते नाले में प्लान से निकलने वाला कीचड़ युक्त गंदा पानी समाहित हो रहा है। भैरूलाल मीणा ने बताया कि आए दिन इस दलदल वाली स्लरी में आए दिन मवेशी फंस रहे है, पूर्व में भी मवेशी की मौत हो गई और रविवार को भी
भारा पुत्र जगन्नाथ मीणा की भैंस की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि आरएसएमएम के प्रबंधन से पूर्व में भी ग्रामीण मिलकर इस समस्या से अवगत करा चुके है लेकिन समाधान नहीं हुआ।

कलक्टरी पहुंचे ग्रामीण
सोमवार को मीणा के साथ क्षेत्रवासी रामलाल, पप्पुलाल, हरिराम, फतहलाल, बंशीलाल आदि कलक्टरी पहुंचे। वहां कलक्टर के नाम अतिरिक्त कलक्टर संजय कुमार को ज्ञापन देते हुए पूरी समस्या से अवगत कराया। एडीएम संजय कुमार ने बताया कि प्राप्त शिकायत की जांच करवा कर समस्या का समाधान कराया जाएगा। इधर, आरएसएमएम प्रबंधन का कहना है कि ग्रामीणों के साथ बैठकर इस समस्या का समधान कर लेंगे।

Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here