कोरोना के भय से मादड़ी में नहीं भरा मेला

0
396

बाघपुरा क्षेत्र का सबसे बड़ा मेला भरता है मादड़ी में

उदयपुर. झाड़ोल. कोरोना वायरस के चलते आदिवासी क्षेत्र में वर्षो से लगते आए मेले इस बार स्थगित हो गए है। ग्राम पंचायत प्रशासन द्वारा मादड़ी में दुकानदारों को मेले में स्टॉल व झूले लगाने की स्वीकृति नहीं दी गई। आदिवासी क्षेत्रों में मेले में जाने की परम्परा होने से वर्ष भर से ग्रामीण मेलो का बेसब्री से इंतजार करते है। बाहरी राज्यों एवं शहरों से मजदूरी कर लौटे अधिकांश युवक मेलो का आनन्द लेने के बाद ही पुन: रोजगार पर निकलते है,लेकिन इस बार मेले स्थगित हो जाने से ग्रामीणों में उदासीनता है। पंचायत समिति क्षेत्र की ग्राम पंचायत मुख्यालय मादडी पर मंगलवार को मेला आयोजन होना था मगर प्रशासन द्वारा सख्ती से मना करने पर झूले नही लगे और न ही दुकानदारों को स्टॉल लगाने दी। जहां दुकानें लगी उन्हें वहां से हटा दिया। क्षेत्र सबसे बडा मेला मादडी में भरता है,जहां करीब आधा किलोमीटर दूरी तक फैला वर्षो पुराना एक बरगद का पेड़ है। इस पेड़ के तने में हनुमान जी का मन्दिर हैं। जहां हर वर्ष मेले के दिन हजारों मेलार्थी दर्शन कर परिक्रमा करते है।





Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here