किसानों के लिए खुशखबर: अब मिलेगा सकेगा एक करोड़ रुपए का ऋण, ये होंगे पात्र

0
373

नई कृषि नीति में किसानों को एक करोड़ रुपए तक का ऋण मिल सकेगा। अब किसान कृषि व इससे जुड़े कामों के लिए बड़ा ऋण लेकर अपना लघु उद्योग लगा सकेंगे।

उदयपुर। नई कृषि नीति में किसानों को एक करोड़ रुपए तक का ऋण मिल सकेगा। अब किसान कृषि व इससे जुड़े कामों के लिए बड़ा ऋण लेकर अपना लघु उद्योग लगा सकेंगे। राज्य कृषि विपणन बोर्ड की ओर से कृषि व्यवसाय के लिए ऋण की यह नई योजना लागू की गई है। इस नीति के तहत किसानों को कृषि के साथ—साथ कृषि आधारित लघु उद्योग स्थापित करने का मौका भी मिल सकेगा। इस नई नीति में किसानों को पसंदीदा व्यवसाय के लिए एक—एक करोड़ का ऋण मिलेगा। इस पर किसानों को राज्य सरकार की ओर से 50 फीसदी अनुदान दिया जाएगा। ऋण का भुगतान दिया जाएगा। ऋण का भुगतान किसानों को पांच साल में करना होगा। किसानों को ऋण कृषि विपणन बोर्ड द्वारा राष्ट्रीय बैंकों से दिलाया जाएगा।

इनके लिए दिया जाएगा ऋण
राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा कृषि आधरित डेयरी, अच्छी नस्ल के पशुओं की खरीद, बागवानी, उद्यानिकी, फूड प्रोसेसिंग, गोदाम निर्माण, कोल्ड स्टोरेज, कृषि उपज का विदेशों में आयात—निर्यात, कृषि उपकरणों की खरीद आदि पर ऋण मिल सकेगा। किसान अपने खेत पर आंवला, टमाटर, सीताफल आदि के लिए फूड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित कर सकेगा।

ये होंगे पात्र
किसान, किसानों के समूह व एनजीओ भी ऋण लेने के लिए पात्र होंगे। उपनिदेशक ने बताया कि ऋण प्रक्रिया के लिए कलक्टर की अध्यक्षता में जिला स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है, इसमें कृषि विपणन बोर्ड, कृषि उपज मंडी के सचिव, कृषि विभाग के अधिकारी सदस्य के रुप में शामिल हैं। कमेटी आवेदनों पर विचार कर पात्र किसानों को बैंकों से ऋण दिलाने का प्रयास करेगी।

किसानों को ऋण तो उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही उनको प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। किसानों को तकनीकी रुप से सक्षम बनाने में मदद भी की जाएगाी।
केएन सिंह, उपनिदेशक, कृषि विभाग

Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here