कलेक्टर ने तय की कीमतें3 व 4 रुपये में फेस मास्क व 100 रुपये में मिलेगा हैंड सेनिटाईजर

0
418

हर व्यक्ति के जीवन के लिए ऐहतियात बरतना जरूरी: कलक्टर

धारा 144 के आदेश में किया संशोधन

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. केंद्रीय उपभोक्ता और खाद्य मंत्रालय द्वारा जारी की गई अधिसूचना के बाद जिलेवासियों को राहत देने के लिए जिला कलेक्टर आनंदी ने 2 लेयर और 3 लेयर मास्क के साथ सेनिटाइजर की कीमत निर्धारित की है। जिला रसद अधिकारी ज्योति ककवानी ने बताया कि आदेश के अनुसार विभिन्न चिकित्सा संस्थाओं द्वारा खरीद की प्रचलित कीमतों के अनुसार 2 लेयर सर्जिकल मास्क की कीमत 3 रु प्रति मास्क और 3 लेयर मास्क की कीमत 4 रूपये प्रति मास्क निर्धारित की है। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार हैंड सेनिटाइजर की 200 एमएल की कीमत 100 रुपये अथवा अंकित मूल्य जो भी कम हो निर्धारित की है ।

…………………

धारा 144 के आदेश में किया संशोधन

आनंदी ने एक आदेश जारी कर 18 मार्च से प्रभावित हुए धारा 144 के आदेश में संशोधन किया है। संशोधन अनुसार पूर्व में इस आदेश में उदयपुर जिले के संपूर्ण सीमा क्षेत्र में बीस या इससे अधिक व्यक्तियों के एक स्थान पर एकत्र होने के संबंध में लगाए गए प्रतिबंध अनुसार अब पांच या इससे अधिक व्यक्तियों के एक स्थान पर एकत्र होने को प्रतिबंधित किया है।

…………..

कोरोना वायरस की रोकथाम विषय पर कलक्टर व एसपी की प्रेस वार्ता जिला कलक्टर आनंदी ने कहा है कि इन दिनों प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रभाव को देखते हुए हमें हर व्यक्ति के जीवन के लिए ऐहतियात बरतना जरूरी है। राज्य सरकार द्वारा 22 से 31 मार्च तक लॉकडाउन किया है। इससे आमजन को थोड़ी परेशानी जरूरी होगी परंतु हम आने वाली बड़ी भारी विपदा से बच जाएंगे। ऐसे में हर व्यक्ति का सहयोग जरूरी है। यहां कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम विषय पर पत्रकारों से बातचीत कर रही थी। उन्होंने कहा कि जनता कफ्र्यू को उदयपुर ने खुलकर समर्थन किया है और अब आगामी 31 मार्च तक भी लोगों से ऐसे ही सहयोग की जरूरत है। जिले में किसी भी स्थान पर पांच या पांच से अधिक लोगों के एकत्र होने पर पाबंदी लगाई गई है। लॉक डाउन के बाद रोजमर्रा के जीवन से संबंधित सभी चीजें जैसे दवाई, किराणा, दूध, गैस आदि उपलब्ध रहेंगी, अन्य पर पूरी तरह रोक रहेगी। आवश्यक सेवाओं वाले को छोड़कर कोई भी कार्यालय नहीं खुलेंगे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा लॉकडाउन के हालातों में गरीब तबके के लोगों के लिए अनटाईड फ ण्ड उपलब्ध कराया गया है और निर्देशानुसार फू ड पैकेट्स के लिए कीचन इत्यादि की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि जितने भी लोग पीडीएस सिस्टम से गेहूं लेते हैं उनके लिए हम एडवांस में राशन देना शुरू कर रहे हैं। निगरानी के लिए प्रत्येक अधिकारी-कर्मचारी की सेवाओं की रहेगी जरूरतआनंदी ने स्पष्ट किया कि गत दिनों बाहर से बड़ी संख्या में बाहर से लोगों का उदयपुर में आगमन हुआ है और यदि हम इनमें से हर एक की लिस्टिंग नहीं करेंगे और उसके लक्षणों को नहीं देखेंगे तो हमें पता नहीं चलेगा कि कौन वायरस से संक्रमित है और कौन नहीं। इसके लिए हमारे पास एक.एक व्यक्ति के बारे में जानकारी प्राप्त करनी जरूरी है, इसीलिए चिह्नीकरण का कार्य एक दो दिन और चलेगा और इसमें हर प्रकार के अधिकारी.कर्मचारी की सेवाओं की जरूरत रहेगी।

सतर्क रहें अफवाहों पर ध्यान न दें: एसपी प्रेस वार्ता को जिला पुलिस अधीक्षक कैलाशचंद्र विश्नोई ने भी संबोधित किया और कहा कि लॉकडाउन दौरान धारा 144 की सख्ती से पालना करवाई जाएगी। समस्त प्रकार के सार्वजनिक परिवहन के वाहनों का संचालन पूरी तरह बंद कर दिया गया है। सिटी में एंबुलेंस और उन टैक्सियों को छूट मिलेगी जो सिर्फ और सिर्फ हॉस्पीटल तक की यात्रा कर रही हो। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर अफवाहों पर विभाग द्वारा निगरानी रखी जा रही है और अफ वाह फैलाने वालों पर कार्रवाई की जा रही है।


Patrika

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here