गांधी ने हिन्दुओ को ठगा, गाँधी ने क्यों नहीं किया देश जोड़ने के लिए आन्दोलन जाने !

भारत के हिन्दू मोहनदास गाँधी को बिलकुल नहीं समझ पाए, और चालक और धूर्त दिमाग से युक्त गाँधी ने हिन्दुओ को बुरी तरह ठग दिया, और हिन्दुओ के भविष्य को भी अंधकारमय बना दिया मोहनदास गाँधी ने 1 काम बखूबी किया, और वो था अहिंसा का प्रचार,
 इसके तहत गाँधी ने नारा दिया की, अगर कोई 1 थप्पड़ मारे तो उसे दूसरा गाल भी दे दो गाँधी ने दिल्ली में 6 अप्रैल 1946 को प्रार्थना सभा में ये तक कहा, की हिन्दुओ का अगर मुसलमान क़त्ल भी करते है तो भी हिन्दू उसका विरोध न करे, और मुसलमानो के 

गाँधी ने क्यों नहीं किया देश जोड़ने के लिए आन्दोलन जाने आगे