मोदी सरकार में आये दिन मिल रहे अच्छे दिन

जबसे नरेंद्र मोदी सरकार 2014 में भारत में आयी है तभी से देश के अधिकांश सेक्युलरो और जिहादियों को इस सरकार समस्या रही है, चाहे वो सेक्युलर पत्रकार हो, अवार्ड वापसी टाइप बुद्धिजीवी हो, जिहादी हो, अलगाववादी हो सभी नरेंद्र मोदी सरकार से परेशान है 
नमोहन के ज़माने में मीडिया वालो को अरब के देशों और यूरोप से पैसे पाने की खुली छूट थी, न कोई इनकम टैक्स की दिक्कत और न ही हवाला के कारोबार पर कोई रोक ऊपर से जब भी मनमोहन विदेश जाते थे, देशभर के मीडिया वाले भारत सरकार के पैसे पर विदेश जाते थे, होटलों में ऐयाशी करते थे 

अब और क्या क्या अच्छे दिन दिख रहे हैं जाने अगले पेज में।