कौन जीतेगा राजनीति की जंग- जनरल या फिर कैप्टन?

516

सेना में जनरल का पद सबसे बड़ा माना जाता है जनरल भारतीय थल सेना का प्रमुख माना जाता है, चाहे ब्रिगेडियर हो या फिर कॅप्टन सबको जनरल का आदेश मानना ही पड़ता है। नहीं मानने की सजा कोर्ट मार्शल के रूप में मिलती है.

 

demo pic..

लेकिन क्या हो अगर यही जनरल सेना से विदा लेने के बाद राजनीति के मैदान में कूद पड़े और उसके सामने सेना का ही पूर्व जवान, जोकि कॅप्टन रह चूका हो, आ जाये।

 

यह भी पढ़ें :ब्रेकिंग न्यूज़- तो ये है पंजाब में आप के CM उम्मीदवार
जाहिर सी बात है राजनीती ऐसा अखाडा है जहा बेटा बाप को पटखनी देने को तैयार बैठा रहता है और भाई भाई को। ऐसे में इस अखाड़े में जनरल या कॅप्टन का कोई मतलब नहीं रह जाता है, एक वो चीज जो मुख्य कारक होता है वो है कि आपकी राजनितिक छवि कैसी है।

पूरी खबर पढ़ने के लिए NEXT बटन पर क्लिक करें 

1 of 2