चीन से लड़ने भारत ने तैनात किया ये ब्रम्हास्त्र , आप भी कहेंगे वाह

2066

दरअसल भारत सरकार ने सुपर लड़ाकू विमान राफेल को चीन से लड़ने के लिए पूर्व में तैनात करने का विचार किया है और सरकार इन राफेल्स को नुक्लेअर पावर के लिए भी इस्तेमाल करेगा .

यह भी पढ़ें : इसको पढ़कर आप पर्रिकर को सलूट करेंगे 

दरअसल भारत यह कदम की उस नीति का हिस्सा है, जिसके तहत चीन को जवाब देने के लिए पारंपरिक और न्यूक्लियर, दोनों तरह के हमलों की क्षमता को मजबूत करना है।

जानकारी के लिए बता दें कि भारत पहले ही सुखोई-30MKI फाइटर जेट्स की तैनाती असम के तेजपुर और छाबुआ में कर चुका है। अब भारतीय वायु सेना ने योजना बनाई है कि 2019 के आखिर तक पहले 18 रफाल लड़ाकू विमानों को पश्चिम बंगाल के हाशिमपुरा बेस पर तैनात किया जाएगा।

 

2 of 2