हिन्‍दू धर्म का मजाक उड़ाती बरखा दत्‍त को रवीना टण्डन ने जूते भिगो कर मारे

जब अपनी आस्था का अपमान सुन रवीना टण्डन ने बरखा दत्त को मारे बुद्धिजीवी तमाचे

बरखा दत्त ने ट्विटर पर लिखा – ” मुझे पता है कि ये सब अपनी अपनी इच्छा है। मगर आज तक कोई भी मुझे समझा नहीं सका है कि यह त्यौहार उलटी सोच का और आदमियों के प्रभाव में नहीं है।”

जवाब में रवीना ने लिखा – ” एक बहुत ही सुंदर त्यौहार जो प्राचीन समय से चलता आ रहा है, औरतें अपने पति के लिए प्रार्थना करती हैं, मैं अपने परिवार के लिए करती हूँ, इसमें कुछ भी उलटी सोच का नहीं है बरखा दत्त। ”

बौखलाई बरखा ने इसके बाद लिखा – ” जरुर रवीना, मैंने लिखा है अपनी सोच, यानी मैं सोच को दूसरों से अलग बता रही हूँ।”

 आगे पढ़े अगले पेज पर: