बैंक लाइन में खड़े आम आदमी ने नोट बैन पर केजरीवाल को दिया जबाव

देखिये दिल्ली में बैंक लाइन में खड़े एक शक्श से जब सवाल पूछा गया तो क्या जबाव दिया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब से 500 और 1000 के नोट बैन किये है तब से अधिकतर नेताओं को सांप सूंघ गया है. प्रधानमंत्री के इस फैसले के विरोध में सर्वप्रथम बंगाल की “गरीब” दीदी उतरी और उन्होंने ट्वीट करके इस फैसले को तुरंत वापस लेने को कहा.

121

विज्ञापन प्रभारी और पार्ट टाइम दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल तो जैसे ममता बनर्जी के ट्वीट का ही इंतज़ार कर रहे थे उन्होंने फटाफट अपने अकाउंट से इसे रिट्वीट कर दिया. हालांकि नोट बैन की घोषणा के काफी समय तक उन्होंने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी थी. हो सकता है नोट गिनने में व्यस्त हों जैसा की उन्ही की पार्टी के पूर्व नेता अश्वनी उपाध्याय ने ट्वीट करके उनपर आरोप लगाया की उन्होंने दिल्ली में शराब की नयी दुकानें खुलवा के हवाला में पैसा लिया है.

1 of 2