भारत-अमेरिका के बीच हुए इस नए समझोते से बोखला गया है चीन…!!!

जानिए भारत-अमेरिका के उस समझोते के बारे में जिसके बाद कोई भी देश भारत को आँखे नहीं दिखा पाएगा!!!

हिंद महासागर में अपना दबदबा दिखाने की कोशिश कर रहे चीन को सबक सिखाने के लिए भारत और अमेरिका रणनीतिक सहयोग बढ़ा रहे हैं। दोनों देश सालाना मालाबार नौसेना अभ्यास को विस्तार देने की योजना बना रहे हैं जिससे की ऐंटी-सबमरीन ऑपरेशन को नई ताकत मिल सके। गौरतलब है कि यह ऐसे वक्त हो रहा है जब हिंद महासागर में चीन की बढ़ती गतिविधियों से भारतीय सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी हैं। चीन के बढ़ते कदमों पर भारत लगातार अपनी निगाह बनाए हुए है।

Related image

हिंद महासागर में बढ़ता जा रहा है चीन का दखल –

भारत हिंद महासागर में चीनी पनडुब्बियों की मौजूदगी से चिंतित है। भारतीय नौसेना ने चीन की करीब छह ऐसी पनडुब्बियों को अपने राडार पर देखा है। इसकी जानकारी देते हुए भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा और यूएस 7वीं फ्लीट के कमांडर वाइस एडमिरल जोसफ पी. ओकोयन ने कहा कि तीनों देशों के बीच होने वाली यह एक्सरसाइज अगले वर्ष हिंद महासागर क्षेत्र में होगी। आपको बता दें कि भारत पेट्रोलिंग के लिए अमेरिका के P-81 एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल करता है जोकि आधुनिक रडार सिस्टम, खतरनाक हार्पून ब्लॉक 2 मिसाइल्स और एमके-54 लाइटवेट टॉरपिडो से लैस है।

अगले पेज पर देखें चीन और पाकिस्तान को रोकने के लिए भारत-अमेरिका ने क्या दिमाग लगाया है !!!