यहां लड़कियों का होता है जबरन दर्दनाक खतना पढ़कर दहल जायेगा दिल

कितना दर्दनाक होता है स्त्री खतना पढ़कर दहल जायेगा आपका दिल ! जानिये किस मानसिकता के साथ किया जाता है ये कुकृत्य ...

एक साल की दुधमुंही बच्ची के हाथ-पैर कुछ अौरतें पकड़तीं हैं और एक अौरत चाकू या ब्लेड से उसकी भगनासा (क्लाइटोरल हुड) काट देती है l खून से लथपथ बच्ची महीनों तक दर्द से तड़फती रहती है l यदि वो भाग्यशाली होती और पैसे वाले घर की होती तो यही काम डॉक्टर एनेस्थीसिया देकर करता l एक साल से लेकर चार से पांच साल तक की बच्चियों की योनी की पूरी भगनासा (क्लाइटोरल हुड ) को काट के फेंक दिया जाता है या फिर भगनासा और उसके आसपास के भगोष्ठ को बुरी तरह से छील दिया जाता है l कई बार इस से बच्चियों की मौत भी हो जाती है l

fc9आपने एफ.जी.एम. का नाम तो सुना ही होगा, जिसका मतलब है फीमेल जेनिटल म्यूटिलेशन । केन्या के गांवों में लड़कियों का खतना किया जाता है । यह खतना इसलिए किया जाता है कि वहां के कबीले के लीडर का मानना है कि ऐसा कर देने के बाद लड़कियां धोखेबाज नहीं होती हैं । ऐसा करने के बाद लड़कियां अपने मनोभावों पर नियंत्रण कर पाती हैं ।

अगले पृष्ठ पर जानिये क्या क्या होता है खतना में :-