1984 की तत्कालीन सरकार के निक्कमेपन की वजह है पाकिस्तान के पास परमाणु बम … जानिए ये ख़ुफ़िया रिपोर्ट

अगर तत्कालीन सरकार ये फैसला लेती तो आज पाकिस्तान कहीं और होता , पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रमों को हमेशा से शक की नजरों से देखा जाता रहा है।

अगर तत्कालीन सरकार ये फैसला लेती तो आज पाकिस्तान कहीं और होता , पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रमों को हमेशा से शक की नजरों से देखा जाता रहा है। हाल ही में अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआइए की रिपोर्ट के मुताबिक

पाकिस्तान ने 1984 में परमाणु बना लिया था।सीआइए रिपोर्ट के मुताबिक 1984 में भारत के पास मिग-29(मिग-29 की खरीद होनी थी) के रूप में बड़ी ताकत थी, जिसका मुकाबला पाकिस्तान नहीं कर सकता था। पाक के पास मौजूद एफ-16 विमानों की तुलना में मिग-29 की मारक क्षमता जबरदस्त थी।

आगे जानिए क्या करना चाहिए था भारत को और क्यों नहीं कर पाया